भूमंडलीकरण में बहुराष्ट्रीय कंपनियों के योगदान को स्पष्ट करें

भूमंडलीकरण में बहुराष्ट्रीय कंपनियों के योगदान को स्पष्ट करें

भूमंडलीकरण राजनीतिक, आर्थिक, सामाजिक, वैज्ञानिक तथा सांस्कृतिक जीवन के विश्वव्यापी समायोजन की एक प्रक्रिया है जो विश्व के विभिन्न देशों के लोगों को भौतिक व मनोवैज्ञानिक स्तर पर एकीकृत करने का सफल प्रयास करती है । भूमंडलीकरण की प्रक्रिया उन्नीसवीं सदी के मध्य से लेकर प्रथम महायुद्ध के आरंभ तक काफी तीव्र रही । इस दौरान वस्तु, पूंजी और श्रम तीनों का अंतर्राष्ट्रीय प्रवाह लगातार बढ़ता गया । इसमें इस दौरान विकसित नवीन तकनीकों का भी उसके विकास में महत्वपूर्ण योगदान रहा ।

भूमंडलीकरण धीरे-धीरे सम्पूर्ण विश्व के अर्थतंत्र का नियामक हो गया । इसके प्रभाव को कायम करने में विश्व बैंक, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष तथा विश्व व्यापार संगठन (WTO) के साथ-साथ पूंजीवादी देशों की बड़ी-बड़ी व्यापारिक और औद्योगिक कंपनियां (बहुराष्ट्रीय कंपनी) का बहुत बड़ा योगदान है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here