भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना किन परिस्थितियों में हुई

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना किन परिस्थितियों में हुई ?

कालांतर में भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन क्षेत्रीय स्तरों पर प्रतिदिन बढ़ता गया, प्रारंभ में यह आंदोलन शिक्षित मध्यम वर्ग तक रहा परंतु आगे चलकर अनेक भारतीय वर्गों की सहानुभूति इसे प्राप्त होने लगी । इसी समय इंडियन एसोसिएशन द्वारा रेंट बिल का विरोध किया जा रहा था, साथ ही लॉर्ड लिटन द्वारा बनाए गए प्रेस अधिनियम और शस्त्र अधिनियम का भारतीयों द्वारा जबरदस्त विरोध किया जा रहा था, जिस कारण सरकार को प्रेस अधिनियम वापस लेना पड़ा था । यद्यपि अभी कोई अखिल भारतीय राजनीतिक संगठन नहीं था, फिर भी यह विजय भारतीय राष्ट्रवादियों के लिए मार्ग-प्रशस्ति का काम किया । उन्हें लगने लगा कि संगठित होना अति आवश्यक है । लॉर्ड रिपन के काल में पास हुए इल्बर्ट बिल का यूरोपियनों द्वारा संगठित विरोध से प्रप्त विजय ने भारतीय राष्ट्रवादियों को संगठित होने का पर्याप्त कारण दे दिया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here