न्यूनतम मजदूरी कानून कब पारित हुआ और इसके क्या उद्देश्य थे

न्यूनतम मजदूरी कानून कब पारित हुआ और इसके क्या उद्देश्य थे ?

1948 ई. में ‘न्यनतम मजदूरी कानून’ पारित हुआ जिसमें कुछ उद्योगों में मजदूरी की दरें तय की गई । पहली पंचवर्षीय योजना में न्यूनतम मजदूरी कानून को महत्त्वपूर्ण स्थान दिया गया । द्वितीय पंचवर्षीय योजना में यह कहा गया कि न्यूनतम मजदूरी ऐसी होनी चाहिए कि जिसमें मजदूरों की स्थिति उनके अपने गुजर-बसर के स्तर से अधिक हो । तीसरी पंचवर्षीय योजना में मजदूर बोर्ड की स्थापना हुई तथा बोनस देने के लिए बोनस आयोग की नियुक्ति हुई ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here