जैन धर्म के त्रिरत्न क्या है

जैन धर्म के त्रिरत्न क्या है ?

जैन धर्म के त्रिरत्न ‘सम्यक् दर्शन, सम्यक् ज्ञान तथा सम्यक् आचरण’ है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here