जाति प्रथा किस प्रकार का श्रम विभाजन है

जाति प्रथा किस प्रकार का श्रम विभाजन है ?

भीमराव अंबेडकर के अनुसार जाति प्रथा ‘अस्वाभाविक’ श्रम विभाजन है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here